मऊ के विधु शेखर राय को सिविल सेवा परीक्षा-2020 में आल इण्डिया में 54वीं रैंक

1 min read

मऊ के विधु शेखर राय को सिविल सेवा परीक्षा-2020 में आल इण्डिया में 54वीं रैंक

■ विधु 2018 में 173 वीं रैंक व 2019 की परीक्षा में 191 वीं रैंक प्राप्त कर चुके हैं

मऊ जनपद के मझवारा निवासी व प्रयागराज राज की मिट्टी की सोंधी महक देश के जाने माने साहित्यकार स्व० डा० रामकमल राय के पौत्र व डा. निशीथ राय के पुत्र व पूर्व राज्य मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार व भाजपा नेता उत्पल राय के भतीजे विधु शेखर राय ने संघ लोक सेवा आयोग की भारतीय सिविल सेवा परीक्षा-2020 में आल इंडिया में 54 वीं रैंक लाकर पूरे उत्तर प्रदेश, पूर्वांचल सहित मऊ जनपद का नाम रोशन किया है। विधु शेखर राय ने शुरू से ही अपना लक्ष्य आईएएस बनने का संजो रखा था। तभी तो दो बार सलेक्शन होने के बाद भी वे अपने लक्ष्य के प्रति कभी पीछे नहीं हटे और आईएएस बनने के लिए मजबूत इरादों के साथ अडिग रहे। इतना ही नहीं उन्होनें अपने बुलन्द हौंसलों को ऑल ओवर इंडिया में 54 वी रैंक लाकर सिद्ध भी किया।

विधु शेखर राय का सेलेक्शन 2018 में भारतीय राजस्व सेवा (इनकम टैक्स) में हुआ था और उनकी आल इंडिया 173 वीं रैंक थी। उसके बाद 2019 की परीक्षा में भी उनका सेलेक्शन हुआ था, उनकी आल इंडिया 191 वीं रैंक थी। विधु नागपुर में NADT नेशनल अकादमी ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस में ट्रेनिंग भी कर रहे हैं। विधु ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद से इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में बी. टेक किया है। IIIT इलाहाबाद से कैंपस प्लेसमेंट पे टीम में एक साल इंजीनियर के पद पर भी काम किये। उसके बाद त्यागपत्र दे कर सिविल सर्विसेज की तैयारी किये। और लगातार तीनों साल 2018, 2019 और 2020 में उनका सेलेक्शन हुआ। इतना ही नहीं जब परिजन मऊ विधु के बाबा वरिष्ठ साहित्यकार डा. रामकमल राय की आज पुण्यतिथि पर उनके प्रति अपनी श्रद्धा के फूल अर्पित कर पूजा पाठ कर रहे थे उसी क्षण उनके देश में 54वीं रैंक के साथ सफलता का संदेश जब परिजनों को मिला तो सभी खुशियों में झूम उठे। भारतीय जनता पार्टी के नेता पूर्व राज्य मंत्री उत्पल राय ने कहा कि आज पिताजी की पुण्यतिथि पर भतीजे का आईएएस बनना हम लोगों के लिए गौरवमयी क्षण है और पिता जी को सच्ची श्रद्धांजलि।

About Post Author

error: Content is protected !!