अवैध कब्जे को हटाये बगैर ही बुलडोजर लौटे 200 लोगों के हस्ताक्षरित प्रार्थना पत्र पर अधिकारी माने

1 min read

गाजीपुर रविवार को गाजीपुर जनपद के बाराचवर ब्लॉक अंतर्गत करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के बेनीपुर में अवैध कब्जे का ध्वस्तीकरण करने के लिए तहसीलदार देवेन्द्र सिंह यादव के नेतृत्व में प्रशासन पहुंचा लेकिन किसी भी तरह का अतिक्रमण नहीं हटाया जा सका।

 

बता दें कि बेनीपुर गांव में सरकारी जमीन पर कब्जा जमाये 27 लोगों के अवैध कब्जों पर कार्यवाही होनी थी।ध्वस्तिकरण की कारवाई देख कब्जा जमाये लोगों ने तहसीलदार से बरसात का हवाला देकर समय की मांग करने लगे और खुद ही अतिक्रमण हटा लेने का हलफनामा भी देने को तैयार हो गये। ग्रामीणो के इस बात के आश्वासन पर मामला टल गया।

तहसीलदार देवेन्द्र सिंह यादव के नेतृत्व में भांवरकोल, मुहम्मदाबाद, बरेसर की पुलिस व एक प्लाटुन पीएसी, कानूनगो ज्ञानेन्द्र ओझा व क्षेत्रीय लेखपाल बेनीपुर में अबैध कब्जा की हुई खलिहान व गड़ही की जमीन खाली कराने जेसीबी के साथ पंहुचे थे।

कार्यवाही शुरू होने से पहले ही जुटे हुए सैकड़ों महिला पुरुषों ने अधिकारीयों के सामने गिड़गिड़ाना शुरू कर दिया और खुद ही कब्जा हटाने की मांग की.

मौके पर मौजूद तहसीलदार ने उच्चाधिकारियों से बात कर समय देने का आश्वासन दिया व समस्त कब्जे दारो सहित 200 ग्रामीणों ने लिखित हस्ताक्षर कर प्रशासन को अगले समय तक के लिए वापस कर दिया।

तहसीलदार देवेन्द्र कुमार यादव ने बताया कि बरसात के कारण ग्रामीणों को खुले आसमान के नीचे लाना उचित नहीं था इसलिए लिखित प्रार्थना पत्र लेकर समय दिया गया है।

About Post Author

error: Content is protected !!